Home Uncategorized दिल्ली के मुहाने पर बसी सबसे बड़ी विधान सभा साहिबाबाद आज सरकारी...

दिल्ली के मुहाने पर बसी सबसे बड़ी विधान सभा साहिबाबाद आज सरकारी स्वास्थ सेवाओ के नाम पर आंसू बहा रही है : राजीव कुमार शर्मा

एशिया की सबसे बड़ी विधान सभा साहिबाबाद की जनता,
सिर्फ एक ई एस आई हॉस्पिटल के भरोसे।
एशिया की सबसे बड़ी विधान सभा साहिबाबाद, जिसकी आबादी लगभग 10 लाख से भी अधिक है कोरोना जैसी महामारी में सरकारी स्वास्थ सेवाओ में सिर्फ ई एस आई हॉस्पिटल के भरोसे है।
दिल्ली के मुहाने पर बसी सबसे बड़ी विधान सभा साहिबाबाद आज सरकारी स्वास्थ सेवाओ के नाम पर आंसू बहाती है, ये वही साहिबाबाद है जो अपने दम पर विश्व के टॉप टैन शहरों में शामिल होकर भारत को हॉट सिटी का मैडल दिलाने में कामयाब हुआ था।

राजीव कुमार शर्मा जी

साहिबाबाद क्षेत्र की अगर बात करे तो इसमे ऊँची ऊँची इमारतों वाला इलाका इंदिरापुरम वैशाली कौशाम्बी भी है तो पॉश इलाका कहे जाने वाले राजेन्द्र नगर सूर्य नगर चन्द्र नगर ब्रज विहार रामप्रस्थ कॉलोनी भी है बड़े बड़े फाइव स्टार होटलों की बात करे तो होटल कन्ट्री इन रैडिसन ब्लू सहित एक दर्जन से अधिक महंगे होटल भी है, सेना का बड़ा एयरपोर्ट भी है तो, सेना का साजो सामान बनाने वाली बड़ी कम्पनी बी ई एल,सी ई एल,बी एच ई एल, सहित भूषण स्टील डाबर मोहन मिकिन्स सहित सैकड़ों राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की कम्पनियां भी है ।
4 बड़े बड़े बड़े इंडस्ट्रियल एरिया भी है तो यशोदा, नरेन्द्र मोहन, मैक्स जैसे बड़े बड़े हॉस्पिटल सहित 100 से ज्यादा बड़े हॉस्पिटल भी है। प्रेसिडियम, सैंट फ्रांसिस डीपीएस डीएवी सैंट थॉमस होली एंजल खेतान डीएलफ बाल भारती सैंट मेरी सहित 200 से ज्यादा बड़े स्कूल भी है, तो आई टी एस,आई एम ई, मेवाड़, इंद्रप्रस्थ सहित बड़े बड़े इंजीनिरिंग कालिज और डेंटल कालिज भी है, मैट्रो रेल भी है तो हवाई चपल्लो में चलने वाले गरीब लोगों को हवाई जहाज में यात्रा करने के लिए एक एयरपोर्ट भी है अनाधिकृत कॉलोनियों के नाम पर शहीद नगर, पप्पू कॉलोनी, राजीव नगर अर्थला करहेड़ा कॉलोनी पंचशील कॉलोनी डिफेंस कॉलोनी गरिमा गार्डन श्यामपार्क गिरधर एनक्लेव सत्यम एनक्लेव इंदिरा कॉलोनी खोड़ा कॉलोनी जनकपुरी गणेश पूरी रामस्वरूप कॉलोनी बालाजी विहार आदि है तो वहीँ कई बड़े मन्दिर मस्जिद मजार गुरुद्वारे भी है तो समाजवादी पार्टी की शान बढ़ाता हज हाउस भी है और भाजपा की शान में कसीदे पढ़ता कैलाश मानसरोवर स्थल भी है और पूर्वांचल भवन भी है।

कई बड़े मीडिया संस्थान और उनके कार्यालय भी इसी साहिबाबाद में है और शादियों के लिए बड़े बड़े फार्म हाउस भी इसी साहिबाबाद में उपलब्ध है अमीरों से भरे करीब आधा दर्जन गाँव करहेड़ा, कनावनी, महाराज पुर ,भोपुरा प्रह्लाद गढ़ी भी इसी साहिबाबाद में है तो एक बड़ा रेलवे स्टेशन भी इसी साहिबाबाद में साहिबाबाद में ही सिटी फॉरेस्ट, डॉक्टर रामनोहर लोहिया पार्क और स्वर्ण जयन्ती पार्क जैसे बड़े पार्क भी है तो ईडीएम पैसिफिक, शिप्रा,वर्ल्ड स्क्वायर जयपुरिया जैसे लगभग दर्जन भर से ज्यादा बड़े बड़े माल भी है तो बिजनस पार्क में चल रहा पासपोर्ट सैंटर भी है।

अगर इतने बड़े क्षेत्र में नही है तो वो है कोई सरकारी हॉस्पिटल का ना होना ।
साहिबाबाद क्षेत्र की इतनी बड़ी आबादी में एक भी सरकारी हॉस्पिटल का ना बनना इस बात की तस्दीक भी करता है कि हम अपने मूलभूत अधिकारों को लेकर कितने जागरूक है की करीब 50सो साल से सरकारी स्तर से हमे हमारे चिकित्सा के मूलभूत अधिकार से भी वंचित रक्खा जा रहा है जो कि मानव अधिकारों के हनन की श्रेणी में आता है।

इतने बड़े क्षेत्र में सरकारी हॉस्पिटल के नाम पर सिर्फ और सिर्फ एक ईएसआई हॉस्पिटल है वो भी आम जनमानस के लिए नही बल्कि कुछ कम्पनियों के कर्मचारियों और मजदूरों के लिए वो तो भला हो गाजियाबाद सांसद और केन्द्रीय मंत्री जनरल वी के सिंह का जो इस हॉस्पिटल का भी जीर्णोद्धार कराकर इसे आज इस लायक बना दिया कि कोरोना जैसी महामारी में साहिबाबाद के लोगो के काम मे आ रहा है नही तो साहिबाबाद विधायक तो शराब के ठेको के सबंन्ध में ही पत्र लिखते रह गए हालांकि क्षेत्र में क्षेत्र की कुछ कॉलोनियों में गंगाजल पँहुचवाने का उनका अभियान सफल रहा उसके लिए वो बधाई के पात्र है मगर बैहतर होता की क्षेत्रीय विधायक सरकार को कोरोना जैसी महामारी के समय मे कोरोना से पीड़ित लोगों के इलाज के लिए यशोदा, मैक्स नरेन्द्र मोहन अम्बे जैसे बड़े हॉस्पिटलों में साहिबाबाद की जनता का सरकारी खर्चे पर इलाज करवाने या फिर इन बड़े बड़े हॉस्पिटलों को कोरोना सैंटर बनाने के लिए पत्र लिखते जिन्होंने सरकार से सस्ती दरों पर जमीनें तो लीज पर ले रक्खी है मगर गरीब लोगों के इलाज के नाम पर बने रजिस्टर हमेशा खाली ही रहते है।

जन प्रतिनिधियों और सत्ताधारी नेताओ को और सरकार को चाहिए कि जनपद के उन बड़े बड़े हॉस्पिटलों को जिन्होंने सरकार से सस्ती दरों पर लीज पर जमीनें हथियाई हुई है आम जनमानस के लिये कोरोना सैंटर बनवाये और सरकार उन हॉस्पिटलों में गरीब लोगों का और कोरोना से पीड़ित लोगों का तब तक मुफ्त में इलाज करवाये जब तक कोरोना जैसी महामारी खत्म नही हो जाती है ।

राजीव कुमार शर्मा
मानव अधिकार पक्षकार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

इटावा जनपद के पत्रकारों ने खोला प्रशासन के खिलाफ मोर्चा और संगोष्ठी का किया आयोजन …

लखनऊ :-कानपुर मंडल ब्यूरो चीफ प्रवीन गौतम प्रज्ञा प्रसार राष्ट्रीय हिन्दी समाचार पत्र के नेतृव में एक संगोष्ठी मीटिंग का आयोजन किया उन्होंने बताया कि...

सरोज खान का कार्डियक अरेस्ट के कारण निधन, 71 वर्ष की उम्र में कर दिया दुनिया को अलविदा

अपने डांस और कोरियोग्राफी से सबके दिलों में जगह बनाने वाली सरोज खान का शुक्रवार देर रात कार्डियक अरेस्ट के कारण मुंबई में निधन...

कानपुर ब्रेकिंग- सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्र एसओ शिवराजपुर महेश यादव समेत 8 पुलिसकर्मियों की हत्या

योगीजी के शासन काल में अपराधियों के हौंसले बुलन्द हो चुके हैं क्या यही रामराज्य है अगर हाँ तो नहीं चाहिए ऐसा रामराज्य जहाँ...

वर्तमान महामहिम राष्ट्रपति कोविंद जी आप भी पूर्व महामहिम राष्ट्रपति डॉ० के०आर० नारायणन जी कुछ सीख लीजिये। समाज इसका हिसाब आपसे जरूर पुछेगा।

महामहिम राष्ट्रपति डॉ० के०आर० नारायणन देश के पहले दलित राष्ट्रपति थे ।उनका सम्पूर्ण जीवन सघर्ष से भरा हुआ था। वे केरल के एक गांव...

Recent Comments